Anil Baluni who struggled from journalism to politics

Spread the love

पत्रिकारिता से राजनीति तक का सफर तय करने वाले अनिल बलूनी – न्यूज़ स्टेट मेगा कॉन्क्लेव

anil balooni

anil balooni (Photo Credit: news nation)

देहरादून:

अनिल बलूनी का जन्म 2 सिंतबर 1972 उत्तराखंड के नकोट गांव (जिला पौड़ी) पट्टी- कंडवालस्यूं में हुआ है. बलूनी युवावस्था से राजनीति में सक्रिय है भाजयुमो के प्रदेश महामंत्री, निशंक सरकार में वन्यजीव बोर्ड में उपाध्यक्ष, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और फिर राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख बने क़ज 26 साल की उम्र में चुनावी राजनीति में उतर आये.  और राज्य के पहले विधानसभा चुनाव 2002 में कोटद्वार सीट से पर्चा भरा था एक समय अनिल बलूनी पत्रकार हुआ करते थे और आज वह पीएम मोदी और अमित शाह के करीबियों में गिने जाते हैं. पार्टी में उनकी अच्छी पकड़ है.

कहा जाता है कि अनिल उत्तराखंड के लोगों की नब्ज टटोलने में माहिर हैं.पत्रकारिता की पढ़ाई के दौरान वह छात्र राजनीति में सक्रिय थे और दिल्ली में संघ परिवार के दफ्तरों के आसपास घूमते-रहते थे संघ के जाने-माने नेता सुंदर सिंह भंडारी से उनकी नजदीकियां बढ़ीं इसी के बाद सुंदर सिंह भंडारी को जब गुजरात के राज्यपाल बन कर आए तो बलूनी उनके ओएसडी थे और उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी थे. अनिल बलूनी ने नरेंद्र मोदी के साथ मेलजोल बढ़ाना शुरू कर दिया और अगले कुछ सालों के भीतर वह मोदी के पसंदीदा लोगों में शामिल हो चुके थे.  शाह के 2014 में अध्यक्ष बनने के बाद अनिल बलूनी को पार्टी प्रवक्ता और मीडिया प्रकोष्ठ का प्रमुख बनाया गया. एक तरह से वो अमित शाह के भी सबसे भरोसेमंद  लोगों में शामिल हो गए हैं



संबंधित लेख

First Published : 24 Sep 2021, 03:21:53 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Leave a Reply

Your email address will not be published.