By snatching the chain of the bank worker, the miscreants on the bike escaped from in front of the PCR vehicle posted on Subhash Park Road. | बैंक कर्मी की चेन झपटकर बाइक सवार बदमाश सुभाष पार्क रोड पर तैनात पीसीआर गाड़ी के सामने से भाग निकले

Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • By Snatching The Chain Of The Bank Worker, The Miscreants On The Bike Escaped From In Front Of The PCR Vehicle Posted On Subhash Park Road.

अम्बाला9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सुभाष पार्क के सामने का रोड। इस पर ही वारदात हुई। - Dainik Bhaskar

सुभाष पार्क के सामने का रोड। इस पर ही वारदात हुई।

  • पुलिस का तर्क-जब तक शोर मचा तब तक आरोपी आगे से निकल चुके थे
  • रामबाजार से नवरात्र का सामान खरीदकर पति व बच्चे के साथ एक्टिवा पर लौट रही थीं हाउसिंग बोर्ड की प्रियंका

हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी बैंक कर्मी प्रियंका की रविवार रात पौने 9 बजे ढाई तोले सोने की चेन झपट ली गई। बाइक सवार 2 बदमाश सुभाष पार्क के बाहर खड़ी पुलिस पीसीआर वाहन के सामने से फरार हो गए।

घटना खुखरैन भवन के पास सुलभ शौचालय के पास की है। प्रियंका पति डिंपल असीजा व पांच साल के बच्चे के साथ एक्टिवा पर रामबाजार से नवरात्र का सामान खरीदकर लौट रहीं थी। बदमाशों ने जब चेन झपटी तक एक्टिवा का संतुलन बिगड़ गया और यह परिवार गिरते-गिरते बचा।

संभलने के बाद डिंपल असीजा ने खुखरैन भवन के सामने पत्नी व बच्चे को एक्टिवा से उतारा और दूसरे बाइक सवार के साथ मिल कर बदमाशों का पीछा शुरू किया। डिंपल ने बताया कि बाइक सवार बदमाश सुभाष पार्क के मेन गेट के बाहर पुलिस पीसीआर से निकल कर बीपीएस प्लेनेटोरियम के साथ बनी नई सड़क से जगाधरी हाईवे की तरफ मुड़े। फिर हाईवे पर सिविल अस्पताल की तरफ बाइक दौड़ा दी। एक्टिवा पर पीछा करते हुए असीजा कैंट सिविल अस्पताल के सामने पहुंचे तो वहां जाम लगा था। आरोपी नहीं मिले तो वह उन्हें देखने के लिए कैपिटल चौक तक गए। शिकायतकर्ता ने बताया कि उनकी पत्नी ने पार्क के सामने खड़ी पुलिस के पास जाकर स्नैचिंग होने की जानकारी दे दी थी। डिंपल असीजा की शिकायत पर हाउसिंग बोर्ड चौकी में रात साढ़े 9 बजे के बाद केस दर्ज हुआ।

धूल मिट्टी से बचने के लिए रास्ता बदला था : डिंपल असीजा ने बताया कि कैंट में सड़कें खुदी हुई हैं, जिस पर धूल-मिट्टी बहुत ज्यादा है। राम बाजार से नवरात्र का सामान खरीदने के बाद उन्हें हाउसिंग बोर्ड जाना था। धूल-मिट्टी से बचने के लिए उन्होंने सुभाष पार्क की तरफ से रास्ता चुना था। यहां जैसे ही एक्टिवा धीरे की तो बाइक पर आए बदमाश ने पत्नी के गले से चेन झपट ली। यहां पर अंधेरा भी हो रहा था और बगीची के कोने पर लगे सीसीटीवी में युवक कैद नहीं हुए। क्योंकि, गेट के कमरे रोड की बजाए प्रॉपर्टी की देखरेख के उद्देश्य से लगे हुए हैं। आगे कहीं पर सीसीटीवी नहीं है।

सुभाष पार्क के पास वारदातें बढ़ीं क्योंकि चारों तरफ रास्ता खुला

सुभाष पार्क के आसपास 7 दिन में स्नेचिंग की यह तीसरी वारदात है। पार्क के चारों तरफ रास्ते हैं, इसलिए आरोपी किसी भी साइड से भागने में कामयाब हो जाते हैं। आलू गोदाम के एक छोर पर बगीची है। यहां से रास्ता जगाधरी रोड, ट्रिब्यून कॉलोनी की तरफ जाता है। बैडमिंटन हॉल के पास से डेहा बस्ती व हाउसिंग बोर्ड की तरफ भाग सकते हैं। सुभाष पार्क में काफी संख्या में परिवारों के साथ सैर करने आते हैं। शाम के समय अकसर परिवार पैदल ही घर से पार्क में सैर करने पहुंचते हैं। रात के समय में आरोपियों की पहचान करना मुश्किल हो जाता है।

ये हो चुकी हैं वारदात

  • 4 अक्टूबर: पालम विहार निवासी बीएसएनएल कर्मी की पत्नी सत्याप्रभा से रात साढ़े 8 बजे चेन स्नैच हुई।
  • 9 अक्टूबर: बंगाली मोहल्ला निवासी पीएनबी कर्मी से रात 9.58 बजे आलू गोदाम रोड पर चेन झपटी।

पार्क में शिफ्ट आधार पर 5-5 पुलिस कर्मियों की ड्यूटी
जहां सीसीटीवी लगे हुए हैं, उन्हें खंगाला जा रहा है। दोनों वारदातों में बाइक सवार अलग-अलग हैं, पीसीआर मौके पर मौजूद थी, लेकिन आरोपियों ने हेलमेट डाल रखे थे और जब तक शोर मचा तब तक आरोपी आगे निकल चुके थे। मुझे तो सिर्फ इतनी जानकारी है कि सुलभ शौचालय के साथ खाली जमीन में चौकी बनाना प्रस्तावित है बाकी अधिकारी लेवल का यह मामला है। चौकी की ओर से शिफ्ट में 5-5 जवानों की ड्यूटी पार्क के अंदर लगा रखी है।-शमशेर सिंह, चौकी इंचार्ज, हाउसिंग बोर्ड चौकी

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published.