Three thousand staff nurses are needed for the care of patients on 2 thousand beds in PGI, waiting for appointment on 1260 approved posts in the institute | पीजीआई में 2 हजार बेड पर मरीजों की केयर के लिए तीन हजार स्टाफ नर्स की जरूरत, संस्थान में 1260 स्वीकृत पदों पर नियुक्ति का इंतजार

Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Three Thousand Staff Nurses Are Needed For The Care Of Patients On 2 Thousand Beds In PGI, Waiting For Appointment On 1260 Approved Posts In The Institute

रोहतकएक दिन पहलेलेखक: विवेक मिश्र

  • कॉपी लिंक
  • पीजीआई में 200 नए आईसीयू बेड लगाने के लिए 800 स्टाफ नर्स की जरूरत, वर्तमान में भी 800 ही नर्स
  • कोरोना की संभावित तीसरी लहर में मरीज बढ़ने पर स्टाफ नर्सों की कमी पेशेंट केयर में बनेगी अड़चन

पीजीआई में गंभीर बीमारियों से ग्रस्त होकर इलाज के लिए आने वाले मरीजों की देखभाल के लिए पर्याप्त स्टाफ नर्स नहीं हैं। संस्थान में उपलब्ध 2 हजार बेड पर 3 हजार स्टाफ नर्स की नियुक्ति की दरकार है। 1260 स्वीकृत स्टाफ नर्स के पद पर भर्ती नहीं हो पा रही। 200 बेड के आईसीयू में 800 स्टाफ नर्स अलग से चाहिए, लेकिन संस्थान में कुल 800 स्टाफ नर्स ही हैं।

नर्सिंग कांउसिल के मानक अनुसार, आईसीयू के एक बेड पर 4 स्टाफ नर्स का होना जरूरी है, लेकिन संस्थान के आईसीयू वार्ड में दो से तीन स्टाफ नर्स के सहारे ही मरीजों की देखरेख की जाती है। ऐसे में कोरोना की संभावित तीसरी लहर में यदि मरीजों की संख्या बढ़ती है, तो उसमें स्टाफ नर्सों की कमी उचित पेशेंट केयर में अड़चन बनने का अनुमान है। हालांकि, पीजीआई के उच्चाधिकारियों इस बारे में सरकार को पत्र लिख चुके हैं।

एक्सपर्ट व्यू – डॉ. आरएस दहिया, सेवानिवृत सीनियर प्रोफेसर, सर्जरी विभाग, पीजीआई, रोहतक।

एक आईसीयू बेड पर 4 स्टाफ नर्स चाहिए, पीजीआई के अधिकारी विकल्प तलाशते हैं

पीजीआई में 200 आईसीयू बेड बनाए जाने की बात संज्ञान में है। आईसीयू के एक बेड पर 4 स्टाफ नर्स का होना जरूरी है। ऐसे में 200 आईसीयू बेड पर कुल 800 स्टाफ नर्स होना चाहिए। पीजीआई रोहतक में 1260 स्वीकृत पोस्ट हैं, जिनमें से करीब 250 स्टाफ नर्स के पद रिक्त हैं। नर्सेज की नियुक्ति किए बगैर आईसीयू में मरीज की देखभाल कौन करेगा। पीजीआई में मरीजों को भर्ती करने के लिए 2 हजार बेड हैं। इन बेड पर मरीजों की देखरेख करने के लिए 3 हजार नर्सेज की जरूरत है। जब तक रिक्त पदों पर नियुक्ति नहीं होगी। संस्थान में मरीजों की उचित देखरेख हो पाना संभव नहीं है।

  • ये कहते हैं अधिकारी और कर्मचारी पक्ष

रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए सरकार को भेजी सिफारिश

संस्थान में कुल 200 आईसीयू बेड हैं। कोविड के दौरान आपात स्थिति में 200 बेड आईसीयू में रिजर्व कर दिए जाते हैं। नर्सेज की कमी चल रही है। रिक्त पदों पर भर्ती करने के लिए पीजीआई के उच्चाधिकारियों की ओर से सरकार को मांग पत्र भेजा जा चुका है। – डॉ. ईश्वर सिंह, चिकित्सा अधीक्षक, पीजीआई, रोहतक।

600 स्टाफ नर्स की है जरूरत, नहीं हाे रही भर्ती

पीजीआई में वर्तमान समय में 600 स्टाफ नर्स की जरूरत है। सरकार रिक्त पदों पर भर्ती नहीं कर रही है। 157 नर्सों की भर्ती हुई थी, जिसमें 40 का चयन एसएससी में हाे गया। 170 पद ऐसे रिक्त हैं ज कभी भी सरकार की ओर से भर्ती की जा सकती है।-अशोक यादव, प्रधान, पीजीआई नर्सिंग एसोसिएशन, रोहतक।​​​​​​​

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published.