Uttarakhand News: General Vk Singh Visited Road On India China Border In Gunji – भारत-चीन सीमा: पिथौरागढ़-लिपुलेख राजमार्ग को बनाएंगे बारहमासी- जनरल वीके सिंह

Spread the love

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पिथौरागढ़
Published by: अलका त्यागी
Updated Sun, 10 Oct 2021 11:02 PM IST

सार

रविवार को गुंजी पहुंचे जनरल सिंह का बीआरओ के अधिकारियों ने स्वागत किया। उन्होंने घट्टाबगड़-लिपुलेख सड़क निर्माण के बारे में भी जानकारी हासिल की।

जनरल वीके सिंह
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

केंद्रीय सड़क परिवहन राष्ट्रीय राजमार्ग राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि पिथौरागढ़ से लिपुलेख तक ऐसा राजमार्ग बनाया जाएगा जिसमें वर्ष भर यातायात सुचारू रहे। इस राजमार्ग से पर्यटकों, यात्रियों और स्थानीय ग्रामीणों को बेहतर सुविधा मिलेगी। वीके सिंह सेना के हेलीकॉप्टर से व्यास घाटी के चीन सीमा के निकट स्थित गुंजी भी पहुंचे। यहां उन्होंने सीमा सड़क का जायजा लिया और बीआरओ के अधिकारियों से सड़क निर्माण कार्य की जानकारी ली।

यह भी पढ़ें…  चीन सीमा विवाद: लद्दाख सीमा पर चल रही तनातनी के बीच सेना और आईटीबीपी ने उत्तराखंड में बढ़ाई चौकसी

रविवार को गुंजी पहुंचे जनरल सिंह का बीआरओ के अधिकारियों ने स्वागत किया। उन्होंने बीआरओ के चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर एमएनबी प्रसाद और कमांडर कर्नल एनके शर्मा से घट्टाबगड़-लिपुलेख सड़क निर्माण के बारे में भी जानकारी हासिल की।

यह भी पढ़ें…  चारधाम यात्रा: नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार ने किए भगवान बदरीविशाल के दर्शन

सीमा को जोड़ने वाली अन्य सड़कों के निर्माण कार्य के बारे में भी पूछा। वीके सिंह यहां से नैनीसैनी एयरपोर्ट पहुंचे, जहां जिलाधिकारी डॉ.आशीष चौहान और बीआरओ के अधिकारियों से बातचीत की। इस दौरान पिथौरागढ़ नैनीसैनी एयरपोर्ट पर केंद्रीय मंत्री सिंह ने मीडिया कर्मियों से बातचीत में कहा कि सीमांत का क्षेत्र बेहद दुर्गम है। बेहद कठिन पहाड़ियां हैं। बर्फबारी होने से जो गांव वहां पर हैं उनमें रहने वाले लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में ग्रामीण पलायन करते हैं, जिसे देखते हुए कोशिश की जा रही है कि पिथौरागढ़ से लिपुलेख तक सड़क बेहतर बनाई जाएगी। यहां ऐसा राजमार्ग बनाया जाएगा जिस पर वर्ष भर यातायात सुचारु रूप से चलता रहेगा। पर्यटकों, यात्रियों और स्थानीय ग्रामीणों को आवागमन की अच्छी सुविधा मिलेगी। जनरल सिंह ने कहा कि सड़क जल्द से जल्द बने इसके लिए बीआरओ को हर तरह का सामान और उपकरण उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

विस्तार

केंद्रीय सड़क परिवहन राष्ट्रीय राजमार्ग राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि पिथौरागढ़ से लिपुलेख तक ऐसा राजमार्ग बनाया जाएगा जिसमें वर्ष भर यातायात सुचारू रहे। इस राजमार्ग से पर्यटकों, यात्रियों और स्थानीय ग्रामीणों को बेहतर सुविधा मिलेगी। वीके सिंह सेना के हेलीकॉप्टर से व्यास घाटी के चीन सीमा के निकट स्थित गुंजी भी पहुंचे। यहां उन्होंने सीमा सड़क का जायजा लिया और बीआरओ के अधिकारियों से सड़क निर्माण कार्य की जानकारी ली।

यह भी पढ़ें…  चीन सीमा विवाद: लद्दाख सीमा पर चल रही तनातनी के बीच सेना और आईटीबीपी ने उत्तराखंड में बढ़ाई चौकसी

रविवार को गुंजी पहुंचे जनरल सिंह का बीआरओ के अधिकारियों ने स्वागत किया। उन्होंने बीआरओ के चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर एमएनबी प्रसाद और कमांडर कर्नल एनके शर्मा से घट्टाबगड़-लिपुलेख सड़क निर्माण के बारे में भी जानकारी हासिल की।

यह भी पढ़ें…  चारधाम यात्रा: नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार ने किए भगवान बदरीविशाल के दर्शन

सीमा को जोड़ने वाली अन्य सड़कों के निर्माण कार्य के बारे में भी पूछा। वीके सिंह यहां से नैनीसैनी एयरपोर्ट पहुंचे, जहां जिलाधिकारी डॉ.आशीष चौहान और बीआरओ के अधिकारियों से बातचीत की। इस दौरान पिथौरागढ़ नैनीसैनी एयरपोर्ट पर केंद्रीय मंत्री सिंह ने मीडिया कर्मियों से बातचीत में कहा कि सीमांत का क्षेत्र बेहद दुर्गम है। बेहद कठिन पहाड़ियां हैं। बर्फबारी होने से जो गांव वहां पर हैं उनमें रहने वाले लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में ग्रामीण पलायन करते हैं, जिसे देखते हुए कोशिश की जा रही है कि पिथौरागढ़ से लिपुलेख तक सड़क बेहतर बनाई जाएगी। यहां ऐसा राजमार्ग बनाया जाएगा जिस पर वर्ष भर यातायात सुचारु रूप से चलता रहेगा। पर्यटकों, यात्रियों और स्थानीय ग्रामीणों को आवागमन की अच्छी सुविधा मिलेगी। जनरल सिंह ने कहा कि सड़क जल्द से जल्द बने इसके लिए बीआरओ को हर तरह का सामान और उपकरण उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.